Best medicine for asthma and allergies दमा के लक्षण और अस्थमा और एलर्जी के लिए सबसे अच्छी दवा जाने

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

best medicine for asthma and allergies: दमा एक फेफड़ों की बीमारी है जिसमें श्वसन की प्रक्रिया अस्त-व्यस्त हो जाती है। इस बीमारी में फेफड़ों की नसें सूख जाती हैं और इससे श्वसन के समय ध्वनि उत्पन्न होती है। दमा का प्रमुख लक्षण होता है सांस लेने में कठिनाई और फेफड़ों में तनाव का अनुभव होना।

asthma definition दमा क्यों होती है जाने

asthma definition: दमा एक अल्पकालिक या दीर्घकालिक फेफड़ों की बीमारी हो सकती है और यह उम्र के किसी भी वर्ग को प्रभावित कर सकती है। यह एक संक्रमण, धूल, धुएं, कीटाणु या अलर्जी से भी हो सकती है। दमा के मरीजों को उच्च तापमान, बारिश, बादल और जैसे मौसमी परिवर्तनों से भी प्रभावित होने की संभावना होती है।

दमा का इलाज नियमित दवाइयों और अन्य थेरेपी के साथ किया जाता है ताकि सांस लेने में आसानी हो और श्वसन की प्रक्रिया ठीक से हो सके। अगर दमा के मरीजों के लक्षण गंभीर होते हैं तो उन्हें तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

और भी पढ़े……symptoms of asthma in kids : अपने बच्चों को करे सावधान जाने बच्चों में अस्थमा का लक्षण, कारण, रोकथाम के उपाय

symptoms of asthma दमा के लक्षण जाने

Dama ke lakshan: दमा एक फेफड़ों की बीमारी है जिसमें श्वसन की प्रक्रिया अस्त-व्यस्त हो जाती है। यह एक संक्रमण या एलर्जी के कारण हो सकता है। इस रोग के कुछ मुख्य लक्षण निम्नलिखित हैं:

सांस लेने में कठिनाई: दमा के मरीजों को सांस लेने में कई बार कठिनाई होती है। ये मरीज अपने फेफड़ों में आवाज करते हुए सांस लेते हैं।

साँस लेने में घुटन: दमा के मरीज दम भरने के लिए व्यायाम करते हैं, जिससे उन्हें सांस लेने में और भी कठिनाई होती है। इसके साथ ही वे थकावट भी महसूस करते हैं।

सांसों में श्वास लेने के दौरान श्वास फूलना: दमा के मरीजों को सांस लेने के दौरान श्वास फूलने का अनुभव होता है। इससे उन्हें दर्द और कफ भी हो सकता है।

छाती में दबाव: दमा के मरीजों को छाती में दबाव का अनुभव होता है। इससे उन्हें तकलीफ होती है और उन्हें थकान महसूस होती है।

और भी पढ़े……weight loss: वजन के साथ तोंद व पेट की चर्वी को करे सिर्फ 7 दिनों में कम जाने कई घरेलू उपचार

asthma homeopathy medicine in hindi अस्थमा होम्योपैथी दवा हिंदी

asthma homeopathy medicine in hindi: एक्जिमा एक विस्फोटक अस्थमा रोग है जो वायुमंडल में उच्च गुणवत्ता वाले धूल, बाकी जीवाणु और रोगजन्य कणों के अवशोषण से होता है। अस्थमा के मरीजों को सांस लेने में तकलीफ होती है और वे चिह्नों जैसे कि दमासांस लेने में तकलीफ, सीने में दबाव और सांस की गहराई में कमी के साथ अपनी स्थिति का अनुभव करते हैं।

होम्योपैथिक दवाओं का उपयोग अस्थमा के लक्षणों को कम करने के लिए किया जाता है और इससे मरीज को सांस लेने में आराम मिलता है। होम्योपैथी में विभिन्न चिकित्सा दवाओं का उपयोग किया जाता है, जो अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद करते हैं। इन दवाओं में अल्बुमिनम मेटालिकुमअर्सेनिक एल्बमबृहत फलकोनिया, काली बिचू, इपिगेा रिगा, सिलीसिया और नैट्रम मुर शामिल हैं।

इन होम्योपैथिक दवाओं का उपयोग करने से पहले, एक व्यक्ति को एक प्रशिक्षित होम्योपैथ डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए जो उन्हें सही समय पर ही खाना खाना चाहिए|

और भी पढ़े……Health: best skin cream for face कैसी त्वचा पर कौन-सी शूट करती है क्रीम जो आपकी खूबसूरती को पल-भर में निखरे जाने

best medicine for asthma and allergies अस्थमा और एलर्जी के लिए सबसे अच्छी दवा

best medicine for asthma and allergies: दमा और एलर्जी के लिए सबसे अच्छी दवा का चयन करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। इस रोग से पीड़ित लोगों को वास्तव में उन दवाओं की आवश्यकता होती है जो उनकी सांस को बेहतर बनाते हैं।

एक्जिमा और एलर्जी के उपचार में, कुछ दवाएं सामान्य तरीके से उपयोग की जाती हैं जो अस्थमा और अलर्जी के लक्षणों को कम करने में मदद करती हैं।

लेकिन, अस्थमा और एलर्जी के लिए सबसे अच्छी दवा के रूप में, दवाओं के चयन से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना जरूरी है।

कुछ ऐसी दवाएं हैं जो अस्थमा और एलर्जी के लिए सबसे अच्छी मानी जाती हैं, जैसे कि लेवोसेटिरिज़ीन, फेक्सोफेनाडीन, मोमेटासोन फुमरेट, बुडेसोनाइड और मोंटेलुकास्ट

लेवोसेटिरिज़ीन एक एंटिहिस्टामाइन दवा है जो एलर्जी के लक्षणों को कम करने में मदद करती है। फेक्सोफेनाडीन एक एंटी-इन्फ्लामेट्री दवा है जो अलर्जी के लक्षणों को कम करती है। 

Follow on Google news

Leave a Comment